दाखिल खारिज की जानकारी बिहार में कैसे देखें

दाखिल खारिज online Bihar Status | बिहार ऑनलाइन म्युटेशन  | Dakhil Kharij online application form Bihar | Dakhil Kharij online application status

बिहार सरकार द्वारा भूमि जानकारी देखने के लिए अपना खाता ऑनलाइन पोर्टल का निर्माण किया है। इस आधिकारक वेबसाइट के माध्यम से लोग अब दाखिल खारिज की जानकारी व स्टेटस देख सकते हैं। और इसके तहत अपनी भूमि का विवरण भी प्राप्त कर सकते हैं। दाखिल खारिज की जानकारी Bihar apna khata portal के जरिये देखा जा सकता है। इस लेख में आप जमीन की या संपत्ति की रजिस्ट्री करवाने के बाद ऑनलाइन म्युटेशन (दाखिला खारिज कैसे करें) व इसका स्टेटस कैसे देखने की जानकारी प्राप्त करेंगे। Dakhil Kharij online application form and status Bihar  कैसे करते हैं आगे पढ़ें।

दाखिल खारिज की जानकारी बिहार में कैसे देखें

दाखिल खारिज की जानकारी के लिए आपको बिहार भूमि दाखिल खारिज नियम 2021 को पड़ना होगा। यहाँ इस लेख में आप बिहार ऑनलाइन म्युटेशन से संबंधित जानकारियां जैसे की जमीन रजिस्ट्री के कितने दिन बाद दाखिल खारिज होता है, केवाला दाखिल खारिज करने का स्टेटस कैसे चेक करें, दाखिल खारिज की फीस आधी की जानकारी मिलेगी।
जस्व एवं भूमि सुधार विभाग में जाकर आप बिहार में दाखिल खारिज की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। सबसे पहले आपको बिहार भूमि की आधिकारिक वेबसाइट में जाना वहां आपको रजिस्टर २ बिहार (MIS Register 2) का लिंक दिखेगा। वहीं आपको डिस्ट्रिक्ट मैप की जानकारी वाला विकल्प दिखेगा यहीं आप बिहार दाखिल खारिज की जानकारी देख पाएंगे।

बिहार दाखिल खारिज की जानकारी

वहां आपको दाखिल खारीज से सम्बंधित ये सभी सुविधाएँ मिलेंगी –

  1. अपना खाता देखें
  2. जमबंदी पंजी देखें
  3. खाता एवं जमबंदी पंजी देखें (Gumo पंजी-2)
  4. जमबंदी पंजी खेसरा वार विवरण
  5. ऑनलाइन दाखिल खारिज / एल पी सी आवेदन

दाखिल खारिज क्या होता है ?

दाखिल खारिज को दूसरी भाषा में म्युटेशन भी कहा जाता है। इसका मतलब होता है की कोई भी जब अपनी जमीन को इनाम में देदेता है या उसे दान या बेच देता है तो दूसरी व्यक्ति के नाम पे सरकारी रजिस्टर में वो जमीन आजाती है।
अर्थात Dakhil kharij के अंतर्गत बिहार लैंड रिकॉर्ड में एक व्यक्ति का नाम हटाकर दूसरे व्यक्ति का नाम जोड़ना होता है। अब भूमि कर दुसरे व्यक्ति से वसूला जायेगा। इसी प्रकार से बिहार दाखिल-खारिज अधिनियम के अनुसार बिहार नामांतरण में कृषि भूमि को एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी को हस्तांतरित की जाती है। इससे भी दाखिला खारिज (नामांतरण दाखिल खारिज) कहा जाता है।

दाखिल खारिज की स्थिति | Bihar Bhumi Jankari

दाखिल खारीज की स्थिति बिहार में ऑनलाइन (दाखिल खारिज online Bihar Status) देखि जा सकती है। दाखिल खारीज आवेदन की जानकारी के लिए आपको सबसे पहले बिहार भूमि पोर्टल पर जाना होगा। उसके बाद मैप में आपको अपने जिले का चयन करना होगा।

  • सबसे पहले बिहार भूमि जानकारी की आधिकारिक वेबसाइट में जाएँ।
  • बाएं तरह दाखिल खारिज के आवेदन की स्थिति वाले लिंक पर क्लिक करें।
  • मैप में अपना जिला चुने।
  • अपनी अंचल चुनें।
  • वर्ष सत्र चुनें।
    • Case No.
    • By Applicant Name
    • Mauja Wise
  • सर्च का विकल पर किलक करें

इस प्रकार से आप APPLICATION STATUS OF MUTATION (म्युटेशन आवेदन की स्तिथि) को ऑनलाइन देख पाएंगे।

बिहार में दाखिल खारिज के लिए जरूरी दस्तावेज

  1. सेल डीड की कॉपी
  2. मोटेशन की एप्लीकेशन कोर्ट फीस स्टैंप के साथ
  3. प्रॉपर्टी टैक्स भरने की लेटेस्ट रसीद
  4. शपथ पत्र स्टैंप पेपर के साथ
  5. क्षतिपूर्ति बांड स्टाम्प पेपर पर

दाखिल खारिज स्टेटस देखने के लिए क्या चाहिए 

अब बिहार में आप ऑनलाइन भू नक्शा या जमाबंदी देख सकते हैं, और इसके साथ ही आप बिहार दाखिल खारिज स्टेटस देख सकते हैं। जरूरी जानकारी निम्न है : –

  1. भाग बर्तमान
  2. रैयत नाम
  3. खाता नंबर
  4. जमाबन्दी संख्या
  5. पृष्ट संख्या बर्तमान
  6. प्लाट नंबर

ऊपर दिए गए विकल्पों में से यदि आपके पास कोई जानकारी उपलभ्ध नहीं है तो आप फिर भी दाखिल खारिज की जानकारी Bihar पंजी-२ के विकल्प से देख सकते हैं।

दाखिल खारिज की फीस Bihar Bhumi Jankari Portal 

Dakhil kharij fees in Bihar – दाखिल खारिज के लिए बिहार सरकार द्वारा बहुत ही काम फीस रखी है। इसके लिए अब आवेदक को केवल ₹20 की राशि लेकर खाता पुस्तिका मिल जाती है। इसके लिए जो दाखिल खारिज की फीस देनी होती है उसे अंचल कार्यालय में जमा करनी होती है |
यदि कोर्ट के द्वारा Dakhil kharij होता है तो वहां ₹5 का स्टांप पेपर वहां पर लगाना पड़ता है |

दाखिल खारिज कितने दिन में होता है ?

दाखिल खारिज का समय: दाखिल खारिज में आवेदन के पश्चात विवाग यह सुनिश्चित करता है की इसमें कोई विवाद। यदि जमीन या संपत्ति में कोई विवाद नहीं हो तो 18 कार्य दिवस में Dakhil kharij करने का प्रावधान है | दाखिल खारिज आपत्ति (विवाद) की स्तिथि में 30 दिन से लेकर 60 दिनों के कार्य दिवस का समय लगता है। अतः यह मान सकते हैं की दोनों स्थिति में आपको ज्यादा से ज्यादा 60 दिन का समय लगेगा।

ऑनलाइन दाखिल खारिज आवेदन

बिहार में दाखिल खारिज आवेदन ऑनलाइन करने के लिए सबसे पहले आपको राजस्व विभाग के आधिकारिक वेबसाइट में जाना होगा वहां आपको ऑनलाइन आप्लिकेशन फॉर्म का विकल्प मिलेगा। इसे भरके आपको नया रजिस्ट्रेशन या पंजीकरण करना होगा। इसकी जानकारी यहाँ दी गयी है।

पहले बिहार भूमि रजिस्ट्रेशन करें

  1. सबसे पहले आपको बिहार भूमि की आधिकारिक वेबसाइट में जाना होगा।
  2. वहां आपको मेनू दिखेगा।
  3. मीनू में ऑनलाइन दाखिल खारिज आवेदन के विकल्प पर क्लिक करें।
  4. अब लॉगिन फॉर्म दिखेगा जिसमे आपको रजिस्ट्रेशन वाले लिंक पर क्लिक करना है।
  5. अब आपको User Registration फॉर्म भरना है।
  6. अब सबमिट का बटन दबाएं और आपका रजिस्ट्रेशन सफल हो जायेगा।

दाखिल खारिज आवेदन फॉर्म ऑनलाइन भीहर भूमि पोर्टल से निकालें
Dakhil kharij के लिए अब आपको बिहार भूमि वेबसाइट पर लॉगिन करके ऑनलाइन आवेदन फॉर्म मिलगा आगे लिंक दिया गया है। Click here to login .

दाखिल खारिज म्यूटेशन अप्लाई करें

म्युटेशन ऑनलाइन अप्लाई करने के लिए या दाखिल खारिज आवेदन बिहार भूमि द्वारा करने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करें :-

  1. सबसे पहले biharbhumi.bihar.gov.in पर जाएँ
  2. इसके बाद वेबसाइट में लोहिन करना होगा।
  3. अब आपको ईमेल एड्रेस व पासवर्ड डालकर लॉगिन करना है।
  4. इसके बाद आपको Apply for Mutation का विकल्प दिखेगा इसमें क्लिक करें।
  5. अब आपको दाखिल खारिज एप्लीकेशन फॉर्म खुल जायेगा उसे भरें।
  6. अब जरूरी दस्तावेज उपलोग करें और म्युटेशन अप्लाई कर दे

दाखिल खारिज डिटेल्स इन हिंदी इन बिहार

सेवा का नाम दाखिल खारिज की जानकारी Bihar Bhumi Portal
मंत्रालय राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग , बिहार सरकार
सरकार बिहार सरकार
लाभार्थी बिहार के भूमि धारक
Official Website biharbhumi.bihar.gov.in
म्युटेशन हेल्पलाइन नंबर 18003456215
Department Address  Department of Revenue and Land Reforms,
Government of Bihar
Old Secretariat, Bailey Road, Patna – 8000015
Suggestion / Feedback email  feedback.lrc@gmail.com
Tags related to this article
Categories related to this article
Bihar

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top